जनादेश 2014 : ‘सर्वधर्म समभाव’ की विजय
सोलहवीं लोकसभा के चुनाव में कांग्रेस समेत कथित सैकुलर लीक पर चलने का दावा करने वाले राजनीतिक दलों का सूपड़ा साफ हो गया है। इस पतन का कारण क्या है? इसकी जड़ें तलाशने के लिए हमें 80 के दशक में जाना होगा। 3 फरवरी, 1981 को सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश मुर्तजा फजल अली और ए. वरदराजन की द्विसदस्यीय पीठ न.....

आगे पढ़ें...

विद्रोह की मशाल जलाने वालों ने पाला है मोदी का सपना
संथाल परगना : आजादी के बाद से जहां एक भी योजना पूरी नहीं हुई

चुनाव में मोदी विकास की डुगडुगी बजाकर हाशिये पर पड़े समाज में सपना तो जगा गये लेकिन सरकार बनने के बाद जो रास्ता सरकार ने पकड़ा है, उसमें चुनावी डुगडुगी की आवाज गायब क्यों हो गयी है। प्रधानमंत्री मोदी को कश्मीर की धारा ३७० की फिक्र.....

आगे पढ़ें...

मोदी के जनादेश तले संघ परिवार का संकट

ठीक तेरह बरस पहले जिन आर्थिक नीतियों को लेकर संघ परिवार बीजेपी को कटघरे में खड़ा करता था। तेरह बरस बाद उन्ही आर्थिक नीतियों को लेकर संघ हरी झंडी दिखाने से नहीं कतरा रहा है। तेरह बरस पहले भी संघ के प्रचारक रहे अटलबिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री की कुर्सी पर थे और तेरह बरस बाद यानी आज भी संघ के प्रचा.....

आगे पढ़ें...

क्या मोदी विकास का ककहरा झारखंड के टटरा से पढ़ेंगे

गांव टटरा । ब्लॉक कान्हाचट्टी। पंचायत केन्द्रीयनगर। जिला चतरा । राज्य झारखंड। देश के सबसे पिछडे राज्य का सबसे पिछड़ा इलाका। लेकिन सड़क पर आपको कोई गड्डा नहीं मिलेगा। पीने का पानी मिनरल वाटर से साफ। बिजली चौबीस घंटे। हर घर के बच्चे के लिये पढ़ना जरुरी है। आठवी तक की शिक्षा गांव में ही मिल जायेगी.....

आगे पढ़ें...

रोमन साम्राज्य की तर्ज पर कांग्रेस का पतन
सन् 476 ईस्वी में इतिहास के सबसे बड़े रोमन साम्राज्य का लगभग 500 वर्षों के बाद पतन हुआ था। उस समय रोमन साम्राज्य विश्व में सबसे महान महाशक्ति थी। इसके पतन के कारणों में सरकार में भ्रष्टाचार, फिजूलखर्ची के कारण गंभीर वित्तीय संकट, दमनकारी कर नीति और महंगाई थे। इसके कारण गरीबों और अमीरों के बीच खाई बढ.....

आगे पढ़ें...

1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19