इस नौजवान के साथ हुआ कुछ ऐसा...सुन आप भी हो जाएंगे दंग

पीलीभीत: मानवीयता किस हद तक खत्म हो रही है इसका अंदाजा इस बात से लग जाता जब पीलीभीत में एक युवक को घंटे भर तक बिजली के खम्बे से बांधकर पीटा गया इतना ही नहीं उस पर चप्पले बरसाई गईं और उसके कपड़े फाड़ कर उसे निवस्त्र करने की कोशिश भी की गई। युवक की पिटाई कर रहे लोगों को शक था कि वह युवक पशु तस्करी करता है। यह अमानवीय घटना शहर कोतवाली क्षेत्र में शहर के बीचों-बीच लगभग एक एक घंटे तक चली, बाद में पहुंची पुलिस ने युवक को दरिंदे लोगों की चुंगल से बचाया।

जहानाबाद का एक युवक छोटी लोडर गाड़ी में पीलीभीत में थाना कोतवाली क्षेत्र में शहर के घन्‍नईताल के पास जानवर लेकर जा रहा था। वह शहर के डेयरी मलिक से गांव में बटाई पर पालने के लिए एक गाय ले जा रहा था लेकिन वह जैसे ही घन्नईताल के करीब पहुंचा कुछ लोगों ने रोकर उससे पूछताछ की। उन्‍हें उस युवक पर जानवरों की तस्करी का शक हुआ और देखते ही देखते मौके पर भारी भीड़ इकट्ठा हो गई। इसके बाद उन्होंने युवक की बिजली के खम्‍बे से बांधकर जमकर पिटाई की।

डेयरी मालिक ने भी जाकर भीड़ को असलियत बताई लेकिन किसी ने उसकी भी एक नहीं सुनी और युवक पिटता रहा। कुछ लोगों ने जान-पहचान होने के कारण हस्तक्षेप कर युवक को बचाने की कोशिश की लेकिन जान-पहचान भी काम नहीं आई और उन लोगों की भी पिटाई कर दी गई। जिस गाड़ी में गाय को ले जाया जा रहा था लोगों ने उसमें भी तोड़फोड़ की।

दरअसल पीलीभीत में पशु तस्करी जोरों पर है और लोगों में इसको लेकर गुस्‍सा भी खूब है। आए दिन सामाजिक संगठन जानवरों की तस्करी के विरोध में आंदोलन भी करते रहते हैं लेकिन एक गलतफहमी की वजह से एक निर्दोष पिट गया। भीड़ का आक्रोश बेहद अमानवीय तरीके से इस युवक पर टूट पड़ा। लगभग एक घंटे बाद पहुंची कोतवाली पुलिस ने युवक को छुड़ाया और कानूनी कार्रवाई की बात कहकर युवक को ले गई हालांकि कुछ देर बाद कोतवाली पुलिस ने आज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 323, 504, 427 सहित कई गम्भीर धाराओं में मामला दर्ज कर युवक को मेडिकल के लिए भेज दिया।

पुलिस ने तो युवक को छुड़ा उसका मैडिकल करवा कर अपनी ड्यूटी पूरी कर ली लेकिन सवाल उन लोगों के लिए खड़ा हो गया जो उस निर्दोष को तमाशबीन पिटते देखते रहे। युवक को पीटने वालों मे तो मानवीयता खत्म हो गई थी लेकिन जो लोग उस पिटते देख रहे थे क्या उनमें भी विरोध करने का साहस नहीं था।

Posted By : Crime Review
Like Us on Facebook