लखनऊ में 6852 विवेचनाएं पेंडिंग, 15 दिन में निस्तारण ना होने पर विवेचकों पर होगी दंडात्मक कार्रवाही- एसएसपी लखनऊ

राजधानी लखनऊ में विभिन्न प्रकार के मुकदमों में छह हजार से ज्यादा विवेचनाएं लंबित पड़ी हुई हैं। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने लंबित विवेचनाओं पर सख्त लिहाज में विवेचना अधिकारियों को शीघ्र निस्तारण के निर्देश दिए हैं। एसएसपी ने कहा है कि अगर लंबित विवेचनाओं में विवेचकों द्वारा 15 दिवस में आपेक्षित कार्यवाही नहीं की गई तो विवेचकों के विरुद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी।

पूरे लखनऊ में 6852 मामलों की विवेचनाएं लंबित

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने समीक्षा के दौरान पाया गया कि लखनऊ के 43 थानों (महिला थाना सहित) में काफी संख्या में विवेचनाए लंबित हैं। इस पर एसएसपी ने नाराजगी व्यक्त करते हुये निर्देश दिये हैं कि जिन विवेचकों के पास 20 या 20 से अधिक लंबित विवेचनाएं हैं। ऐसे 200 विवेचकों को कारण बताओ नोटिस निर्गत किया गया। सम्बन्धित सर्किल के क्षेत्राधिकारियों को निर्देशित किया गया कि विवेचकों को अलग से तलबकर आदेश कक्ष की कार्यवाही करते हुए समुचित मार्गदर्शन कर शीघ्र निस्तारण कराएंगे। एसएसपी ने बताया कि लखनऊ में कुल 6852 मामलों की विवेचनाएं लंबित हैं। इनमें पूर्वी क्षेत्र में 1833, पश्चिमी क्षेत्र में 1340, ट्रांसगोमती (टीजी) क्षेत्र में 1440, उत्तरी क्षेत्र में 1536, ग्रामीण क्षेत्र में 630 और अपराध क्षेत्र (शाखा) में 73 विवेचनाएं लंबित हैं।

रिजर्व पुलिस लाइन में लगेगा निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर

एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी की सार्थक पहल पर उत्तर प्रदेश डॉक्टर्स एसोसिएशन की मदद से रिजर्व पुलिस लाइन में दिनांक 13 जनवरी 2019 को निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाया जायेगा। एसएसपी ने कहा कि पुलिसकर्मी काम की अधिकता के कारण अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं दे पाते हैं।इस बात को ध्यान में रखते हुए डॉ. नीरज कुमार मिश्रा, अध्यक्ष जज्बा नींव वेलफेयर सोसायटी के सहयोग से निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाया जाएगा। इस आयोजन में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लखनऊ कलानिधि नैथानी, एसपी ट्रैफिक रविशंकर निम व एएसपी लाइन अमित कुमार भी उपस्थित रहेंगे।

Posted By : CRIME REVIEW
Like Us on Facebook