PMO में हुआ था सिलेक्‍शन: पंखे से लटकता मिला शव, प्राइवेट पार्ट से निकल रहा था खून

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में शनिवार को एक युवक का शव कमरे में पंखे से लटकता मिला। उसके प्राइवेट पार्ट से खून निकल रहा था और शरीर पर चोट के कई निशान थे। युवक के भाई ने बताया कि उसका पीएमओ में सिलेक्‍शन हुआ था। शुक्रवार को गवर्नर राम नाईक से मुलाकात की थी और पीएम से फोन पर बात भी कराई थी। परिजनों हत्‍या के साथ बड़ी साजिश का शक जताया है।
गवर्नर ने दी थी शुभकामनाएं...
- जानकीपुरम के अनीता नगर कॉलोनी में रहने वाले अंकित सिंह (24) का शव रहस्यमय हालत में फंदे से झूलते मिला।
- सुबह मकान में रहने वाले किराएदार की पत्नी ने शव को देखा और परिजनों को सूचना दी।
- युवक के प्राइवेट पार्ट सहित शरीर के कई हिस्से से खून बह रहा था, जिससे परिवार वाले हत्या की आशंका जता रहे हैं।
- अंकित का चीफ सेक्रेटरी डिफेंस में कुछ दिन पहले ही सलेक्शन हुआ था।
- अंकित से शुक्रवार को गवर्नर ने मुलाकात कर सम्मानित कर उसे शुभकामना दी थी।
- अंकित का परिवार मूल रुप से हरदोई मंजूला का रहने वाला है। अंकित परिवार में सबसे छोटा था।
ब्रिलिएंटथा अंकित
- अंकित ब्रीलिएंट था। पीएमओ ऑफिस में मात्र एक पोस्ट थी, जिसमें उसका सि‍लेक्शन हुआ था।
- भाई नागेंद्र ने बताया कि लखनऊ से होने की वजह से उसे गवर्नर ने बुलाकर सम्मानित किया था और पीएम मोदी से फोन पर बात भी कराई थी।
- नागेंद्र का कहना है अंकित सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रहा था। इससे पहले उसने बैकिंग की परीक्षा पास की थी, लेकिन नौकरी ज्वाइन की।
- नागेंद्र शाहजहांपुर में एचडीएफसी बैंक में जॉब करता है और पत्नी के साथ वहीं रहता है।
- अंकित लखनऊ के जानकीपुरम के अनीता नगर स्‍थि‍त मकान में अकेले रहता था। मकान के ऊपरी हिस्से में अंकित रहता था, जबकि नीचे के हिस्से में ठेकेदार नितिन अग्रवाल अपनी पत्नी जूही के साथ रहता है।
- अंकित के शव को सबसे पहले जूही ने ही देखा था जब वह छत पर कपड़े फैलाने गई थी।
क्‍या कहती है पुलिस
- जानकीपुरम थाना प्रभारी गोपाल सिंह यादव ने बताया कि युवक का शव डबल गमझे में फंदे से लटक रहा था।
- दरवाजा खुला होने की वजह से परिवार वाले हत्या की आशंका जता रहे हैं।
- अंकित के शरीर पर केवल 5 अंडरवियर और बनियान थी।
- पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद की का सच सामने आ सकेगा। फिलहाल, जांच के लिए फारेंसिक टीम को बुलाकर पड़ताल कराई गई है।

Posted By : crime review
Like Us on Facebook