मुलायम ने अखिलेश को सुनाई खरी खोटी, फैसलों पर भी उठाये सवाल, की शिवपाल-अमर की तारीफ

लखनऊ.बीजे सोमवार से शुरू हुआ सपा का पॉलिटिकल ड्रामा अभी भी ख़त्म नहीं हुआ है। शिवपाल यादव को प्रदेश अध्यक्ष की कमान सौंपने के बाद शनिवार सुबह मामला और बिगड़ गया। अखिलेश समर्थक यूथ फ्रंटल के चारों संगठन के कार्यकर्ताओं ने शनिवार सुबह सपा प्रदेश कार्यालय का तो घेराव किया ही, अमर सिंह को चोर और चाचा को पार्टी से बाहर करो जैसे नारे लगाने शुरू कर दिए। यही नहीं, मुलायम का आवास भी घेरा गया। दोपहर 2 बजे सपा मुखिया मुलायम सिंह पार्टी कार्यालय पहुंचे और जमकर फटकार लगाई, तब जाकर मामला शांत हुआ। हालांकि, 2 घंटे की स्पीच में मुलायम ने अखिलेश को खूब खरी-खरी सुनाई और शिवपाल, अमर सिंह की तारीफ की।
'बीच' का कहने पर अमर सिंह की मुलायम ने की तारीफ
-मुलायम की मीटिंग ख़त्म होते ही कार्यकर्ता बाहर निकले।
-एक कार्यकर्ता ने बताया कि जब मुलायम के सामने अखिलेश को फिर से प्रदेश अध्यक्ष बनाने की बात उठी तो उन्होंने डपट दिया।
-फिर मुलायम ने कहा कि कुछ बीच के लोग हैं, जो शिवपाल और अखिलेश को लड़ा रहे हैं।
-एक कार्यकर्ता ने अमर सिंह का नाम लिया।
-इस पर मुलायम ने कहा कि जो दिल्ली में केस चल रहे हैं उन्हें कौन देख रहा है।
-अमर सिंह हमें ऐसी मुश्किलों से निकालते हैं।
-उनके अलावा पार्टी में ऐसा कोई नेता है जो यह सब कर सकेगा।
अपने मन से फैसला नहीं लेंगे अखिलेश
-अपनी 2 घंटे की स्पीच में मुलायम ने अखिलेश यादव को खूब खरी-खरी सुनाई।
-उन्होंने कहा कि अखिलेश अपने मन से पार्टी नहीं चलाएंगे।
-पार्टी में लोकतंत्र है। कोई बात हो तो हमसे कहो, हम देखेंगे।
फैसलों पर उठाए सवाल
-मुलायम ने सीएम अखिलेश के फैसलों पर भी सवाल उठाए हैं। .
-उन्‍होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि अखिलेश ने कैसे बलराम यादव को कैबिनेट से बाहर कर दिया।
-यही नहीं, मुलायम ने कहा कि कैसे शिवपाल यादव के पद ले लिए।
शिवपाल ने उबारा है संकट से
-मुलायम ने कार्यकर्ताओं से कहा कि जब जब पार्टी पर संकट आया, तब शिवपाल यादव खड़े हुए।
-शिवाल यादव ने क्या पार्टी के लिए कम मेहनत की है।
-इस पार्टी के लिए हमने खून बहाया है, तमाशा नहीं होने दूंगा।
भाजपा ने मार ली बाजी
-मुलायम ने कहा कि बीजेपी वाले बूथ को मजबूत कर रहे हैं और हम लड़ रहे हैं।
-बताओ तुम में से कितने लोगों ने बूथ गठित कर लिया है या सिर्फ यहां पर तमाशा करने आए हो।
मुलायम की नसीहत के बाद बदल गए यूथ के स्वर
-मुलायम की नसीहत के बाद यूथ लीडर्स के नारे भी बदल गए।
-जहां अखिलेश को प्रदेश अध्यक्ष बनाने की बात पर यूथ अड़े थे, वहीं उन्होंने अखिलेश-शिवपाल के नारे लगाने भी शुरू कर दिए।
-कार्यकर्ताओं ने कहा कि हम सबके नेता मुलायम हैं। ऐसे में उनकी बात हम जरूर मानेंगे।

Posted By : crime review
Like Us on Facebook