गया से पकड़ा गया आतंकी तौसीफ , ट्यूशन के बहाने बच्चों का 'ब्रेनवॉश' करता था,

अहमदाबाद सीरियल बम विस्फोट के आरोपी तौसीफ खां और उनके दो सहयोगी गुलाम सरवर एवं शहंशाह यावी सन्नू खां को न्यायिक हिरासत में गया के केंद्रीय कारागार भेज दिया गया. चार दिन की रिमांड खत्म होने के बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को कड़ी सुरक्षा में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रामानंद राम की कोर्ट में पेश किया. जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा गया.

चार दिन की पुलिस रिमांड में जिला पुलिस के साथ ही गुजरात एटीएस, एमपी एटीएस, यूपी एटीएस, आईबी और अन्य टीमों ने सभी से कड़ी पूछताछ की. इस दौरान पूछताछ के आधार पर महिला समेत कई लोगों को पुलिस ने अपने कब्जे में लिया, पर उसके बारे में पुलिस अभी कुछ नहीं बोल रही है.

पुलिस सूत्रों की मानें तो पूछताछ में तौसीफ खां ने उन लोगों के बारे में भी जानकारी दी है जो यहां आकर रहने में सहयोग देते थे. साथ ही मैट्रिक की फर्जी डिग्री बनवाकर दुबारा एडमिशन कराने में भी सहयोग करते थे. पूछताछ में आतंकी तौसीफ ने बताया कि वो ट्यूशन के बहाने बच्चों का 'ब्रेनवॉश' करता था.

उसने पूछताछ में गया में रहते हुए गुजरात, राजस्थान, दिल्ली, मुंबई, दरभंगा समेत कई इलाकों में जाकर बैठक करने की जानकारी दी. स्कूल में पढ़ाने के साथ ही वह कुछ बच्चों को निजी स्तर पर पढ़ाने और उनका ब्रेनवाश करने का काम भी करता था. जांच एजेंसियां पूछताछ में मिली किसी भी जानकारी को साझा करने से इनकार कर रही हैं.

Posted By : CRIME REVIEW
Like Us on Facebook