महात्मा गांधी के पुतले पर गोलियां बरसाने वाली हिंदू महासभा की पूजा शकुन पांडेय गिरफ्तार

नई दिल्ली: राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पूण्यतिथि पर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में गांधी के पुतले को गोली मारने वाली अखिल भारतीय हिंदू महासभा (Hindu Mahasabha) की नेता पूजा शकुन पांडेय (Pooja Shakun Pandey) और उसके पति अशोक पांडेय को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अलीगढ़ पुलिस ने नोएडा में मंगलवार की देर रात दोनों को गिरफ्तार कर लिया. बता दें कि उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में बीते बुधवार को अखिल भारतीय हिंदू महासभा (Hindu Mahasabha) की पूजा पांडे ने अपने साथियों के साथ मिलकर गांधी जी के पुतले को गोली मारी थी. पूजा शकुन पांडे ने महात्मा गांधी के पुतले पर तीन गोलियां चलाईं, पेट्रोल छिड़कर पुतले को फूंका और मिठाई बांटी थी. इतना ही नहीं इस दौरान 'गोडसे जिंदाबाद' के नारे भी लगाए गए थे.
महात्मा गांधी की हत्या को रिक्रिएट करने वाली हिंदू महासभा की नेता बीजेपी के दिग्गज नेताओं के साथ



दरअसल, पुलिस ने शकुन और उसके पति अशोक पांडेय को गिरफ्तार कर लिया है. हालांकि, अभी जगह कन्फर्म नहीं है कि नोएडा में कहां से गिरफ्तार किया गया है और उन दोनों को कहां पेश करने के लिए ले जाया गया है. इस मामले में पुलिस ने अलीगढ़ में 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. बता दें कि महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर उनकी हत्या का सीन रिक्रिएट करने वाली हिंदू महासभा की नेता पूजा शकुन पांडे बीजेपी के दिग्गज नेताओं के साथ दिख चुकी है, जिनमें मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उमा भारती भी हैं.

हिंदू महासभा ने कहा- महात्मा गांधी की वजह से मारे गए हिंदू, गोडसे ना मारते तो देश के होते और टुकड़े

सोशल साइट पर वीडियो और तस्वीरें सामने आने के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली गई थी, उसमें कहा गया कि कुछ पुलिसकर्मी जब गश्त पर थे तो उन्होंने देखा कि कुछ लोग गांधी जी की तस्वीर को गोली मार रहे हैं. जिस पुतले को गोली मारी गई, उसमें खून जैसे रंग का तरल पदार्थ रखा हुआ था, जब उसे गोली मारी गई तो वह खून उसमें से बहने लगा. पुलिस ने बताया कि जब वह उन लोगों को पड़कने गई तो वे वहां से भाग गए. बता दें जब महात्मा गांधी की इस तरह से बदसलूकी मीडिया के सामने की गई. हिंदू महासभा के लोगों ने मीडिया के सामने ही फोटो सेशन भी करवाए.

एफआईआर में हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव पूजा शकुन और उनके पति अशोक पांडे सहित 12 लोगों का नाम लिखा गया. सीनियर पुलिस अधिकारी आकाश कुल्हारी ने कहा कि महात्मा गांधी की 71वीं पूण्यतिथि पर हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारी थी. यह घटना शहर के नौरंगाबाद के पास में एक घर की है. बाद में यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही है.

कांग्रेस करेगी राज्य मुख्यालयों पर विरोध प्रदर्शन, महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारे जाने का मामला

इस घटना के बाद पूजा शकुन ने मीडिया को बताया था कि उसके संगठन ने हत्या की 'रिक्रिएशन' करके नई परंपरा की शुरुआत की है. और अब दशहरा पर राक्षस राजा रावण के उन्मूलन के समान इसका अभ्यास किया जाएगा. नाथूराम गोडसे के सम्मान में हिंदू महासभा महात्मा गांधी पुण्यतिथि को शौर्य दिवस के रूप में मनाती है.

Posted By : crimereview
Like Us on Facebook